संजय राउत के घर ईडी ने जमाया डेरा – ताबड़तोड़ छापेमारी

News

Sanjay Raut ED Case News – पात्रा चाल के जमीन घोटाले के मामले में ईडी ने पिछले आठ घंटे से संजय राउत की घर में दर्रा डाला हुआ है। ईडी का आरोप है की संजय राउत जाँच में सहयोग नहीं कर रहे है। 1000 करोड़ से अधिक का पात्रा चल जमीन घोटाला आजकल काफी सुर्ख़ियों में बना हुआ है।

परवर्तन निदेशालय की 12 अधिकारीयों की टीम संजय राउत के घर पर मौजूद है और और लगातार पिछले आठ घंटों से अपना काम कर रही है। दो टीमें संजय राउत के अलग अलग ठिकानों पर भी छापेमारी कर रही है। छापेमारी के दौरान संजय राउत को खिड़की से बहार झांकते हुए देख गया था जिसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है।

आपको बता दें की बीती 27 जुलाई को ईडी ने पात्रा चाल घोटाले के मामले में संजय राउत को तालाब किया था। लेक्किन संजय राउत ईडी के सामने पेश नहीं हुये। इसके चलते ही ईडी के अधिकारी उनके घर छापेमारी करने पहुंचे और उनपर ये आरोप भी लगा की वो ईडी की जाँच में सहयोह नहीं कर रहे है।

इन सबके बीच में संजय राउत ने ट्वीट भी किया जिसमे उनहोंने लिखा है की – मेरा किसी भी तरह के घोटाले से कोई लेना-देना नहीं है। और यह सब मैं शिवसेना के प्रमुख बालासाहेब ठाकरे की शपथ लेकर कहता हूं। बालासाहेब ठाकरे ने हमें लड़ना सिखाया था और मैं शिवसेना के लिए लड़ना जारी रखूंगा। संजय राउत ने ईडी की कार्रवाई को झूठी कार्रवाई बताया। उन्होंने कहा ये सब झूठे सबूत हैं। मैं शिवसेना नहीं छोड़ूंगा, मैं मर भी जाऊं तो कभी भी समर्पण नहीं करूंगा।

पात्रा चाल घोटाला क्या है

पात्रा चाल जमीन घोटाला महाराष्ट्र हाउसिंग एंड एरिया डेवेलपमेंट अथॉरिटी का जमीन से जुड़ा घोटाला है। इस जमीन में करीब 1034 करोड़ का घोटाला होने का अनुमान लगाया जाए रहा है। इस मामले में संजय राउत और उनकी पत्नी की 11 करोड़ की सम्पति पहले ही जब्त की जा चुकी है। बताया जा रहा है की रीयल एस्टेट कारोबारी प्रवीण राउत ने लोगों के साथ धोखाधड़ी की है। इस जमीन पर एक कंस्ट्रक्शन कंपनी को 3000 फ्लेट बनाने का काम मिला था। इनमे से 672 फ्लैट उन लोगो को देने थे जो पहले से एक जगह पर रहते थे। और बाकि के बचे फ्लैट एमएचएडीए और उस कंपनी को देने थे। लेकिन ऐसा ना करके साल 2011 में इस जमीन का एक बड़ा भाग दूसरे बिल्डरों को बेच दिया गया था।

 

1 thought on “संजय राउत के घर ईडी ने जमाया डेरा – ताबड़तोड़ छापेमारी

Leave a Reply

Your email address will not be published.