शिवसेना नेता संजय राउत को हिरासत में लिया – सुबह से हो रही थी ताबड़तोड़ छापेमारी

News

मुंबई के गोरेगावं के पात्रा चल घोटाले में 9 घंटे की छापेमारी और कड़ी पूछताछ के बाद शिवसेना के नेता संजय राउत को आखिर ईडी ने हिरासत में ले लिया है। पात्रा चाल जमीन घोटाले के मामले में आज सुबह परवर्तन निदेशालय की टीम संजय राउत के मुंबई आवास पर पहुंची थी। सुबह से लगातार उनके घर और अलग अलग ठिकानो पर ताबड़तोड़ छापेमारी चल रही थी।

इससे पहले संजय राउत को ईडी ने दो बार सम्मन भेजा था। इसके बावजूद संजय राउत ईडी के सामने पेश नहीं हुए थे। आज सुबह करीब 7 बजे से उनके घर पर पूछताछ और छापेमारी की कार्यवाही चल रही थी। 9 घंटे चली पूछताछ के बाद आखिर शिवसेना के नेता संजय राउत को हिरासत में ले लिया गया है।

आपको बता दें की गत अप्रैल में संजय राउत की पत्नी वर्षा राउत के नाम से एक फ्लैट और अलीबाग की जमीन को भी ईडी ने कुर्क किया था। ये प्रॉपर्टी प्रवीण राउत से डाइवर्ट पैसे से खरीदी गई थी ऐसा ईडी का आरोप है। गिरफ्तार कारोबारी प्रवीण राउत संजय राउत के गहरे दोस्त हैं और उसके पात्रा चाल जमीन घोटाले के पैसे को डाइवर्ट करके ये फ्लैट और जमीन खरीदी गई है। पात्रा चाल जमीन में एक हजार करोड़ से ऊपर का घोटाला होने का अंदेशा लगाया जा रहा है।

संजय राउत के घर ईडी ने जमाया डेरा – ताबड़तोड़ छापेमारी

पात्रा चाल घोटाला क्या है

पात्रा चाल जमीन घोटाला महाराष्ट्र हाउसिंग एंड एरिया डेवेलपमेंट अथॉरिटी का जमीन से जुड़ा घोटाला है। इस जमीन में करीब 1034 करोड़ का घोटाला होने का अनुमान लगाया जाए रहा है। इस मामले में संजय राउत और उनकी पत्नी की 11 करोड़ की सम्पति पहले ही जब्त की जा चुकी है। बताया जा रहा है की रीयल एस्टेट कारोबारी प्रवीण राउत ने लोगों के साथ धोखाधड़ी की है। इस जमीन पर एक कंस्ट्रक्शन कंपनी को 3000 फ्लेट बनाने का काम मिला था। इनमे से 672 फ्लैट उन लोगो को देने थे जो पहले से एक जगह पर रहते थे। और बाकि के बचे फ्लैट एमएचएडीए और उस कंपनी को देने थे। लेकिन ऐसा ना करके साल 2011 में इस जमीन का एक बड़ा भाग दूसरे बिल्डरों को बेच दिया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.